Free Bollywood - Indian Mp3


Category - hindi sms

hindi sms

hindi sms

?????? ?? ??????

तारों में अकेले चाँद जगमगाता है,
  मुश्किलों में अकेला इन्सान डगमगाता है,
काँटों से मत घबराना मेरे दोस्त,
  क्योंकि काँटों में ही एक गुलाब मुस्कुराता है


Share On Whatsapp
hindi sms

Hindi Love Shayari SMS

आँखो से लफज़ो को दिदार मत करना,
  खामोशी से महोब्बत का इज़हार मत करना,
रह ना सको किसी के बिना…
  इतना भी किसी से प्यार मत करना…


Share On Whatsapp
hindi sms

????? ??? ??

इस दुनियाँ में सब कुछ बिकता है,
 फिर जुदाई ही रिश्वत क्युँ नही लेती?
मरता नहीं है कोई किसी से जुदा होकर,
 बस यादें ही हैं जो जीने नहीं देती.. …


Share On Whatsapp
hindi sms

????? ?? ???????

कुछ सोचूँ तो तेरा ख्याल आ जाता है,
कुछ बोलूँ तो तेरा नाम आ जाता है,
कब तक छुपालुँ दिल की बात..
उसकी हर अदा पर मुझे प्यार आ जाता है। …


Share On Whatsapp
hindi sms

??????? ?? ?????

इतनी आसानी से कैसे भुल जाता है कोई,
रह-रह कर क्यों याद आता है कोई,
उमर भर याद करता रहेंगे आपको,
देखते है कब तक हमें भुलाता है कोई.. …


Share On Whatsapp
hindi sms

????? ??? ?????

Har phool ki ajab kahani hai,
Chup rehna bhi pyar ki nishani hai,
Kahi koi zakhm nahi phir bhi kyu yeh ehsas hai,
Lagta hai dil ka ek tukda aaj bhi us ke paas hai…


Share On Whatsapp
hindi sms

Shayari in Hindi – Page 4

दूरियाँ बढ़ाने को जब दिल मचलने लगे,
किसी और का साथ रास आने लगे,
तन्हाई में ठहर कर तलाशना मुझे,
जब भी हर ओर अँधेरा सा छाने लगे.


Share On Whatsapp
hindi sms

Dard Shayari – Page 3

आरजू-ऐ-सफर का जब हमने इरादा किया,
साथ चलने का उसने वादा किया,
कुछ उसको रास ना आई वफा की बातें,
कुछ ऐतबार हमनें भी ज्यादा किया…

Share On Whatsapp
hindi sms

Hindi Shayari – Page 2

तेरी इस दुनियां में ऐसा मंजर क्यों है ?
कही जखम तो कहीं पीठ पर खंजर क्यों है?
सुना है कि तू हर जर्रे-जर्रे में रहता है..
तो फिर जमी पर कहीं मस्जिद और मन्दिर क्यों है?
जब रहने वाले इस दुनियां के है तेरे ही बन्दे..
तो फिर कोई किसी का दोस्त और कोई दुश्मन क्यों है?
तू ही लिखता है जब सवका मुकद्दर…
तो कोई बदनसीब और कोई मुकद्दर का सिकंदर क्यों है?

Share On Whatsapp
hindi sms

Dard Shayari – Page 1

इतनी आसानी से कैसे भुल जाता है कोई,
रह-रह कर क्यों याद आता है कोई,
उमर भर याद करता रहेंगे आपको,
देखते है कब तक हमें भुलाता है कोई..

Share On Whatsapp